LATEST NEWS

दिन के उजाले में बे रोकटोक अवैध खनन का खेल जारी

रिपोर्ट: शादाब अली: रुड़की

रुड़की-खनन माफियाओं के हौसले इतने बुलंद हैं कि ये पहले तो रात के अंधेरे में अवैध खनन किया करते थे लेकिन अब तो दिन के उजाले में ही बे रोकटोक खनन का खेल खेला जा रहा है। आज दोपहर के समय सिविल लाइन कोतवाली पुलिस खटका के समीप से एक अवैध रेत से भरी ट्रैक्टर ट्रॉली को पकड़कर कोतवाली ले आई अब उसके खिलाफ कार्यवाही की जा रही है।

खनन माफियाओं को देखकर ऐसा लगता है मानो अवैध खनन माफियाओं को अब ना तो पुलिस का डर है और ना ही प्रशासन का कोई खौफ,इसलिए तो खनन माफिया दिन के उजाले में ही अवैध खनन करने में लगे हुए है। चाहे वह सिविल लाइन कोतवाली क्षेत्र अंतर्गत टोडा खटका हो या फिर जलालपुर,शेरपुर,कल्हनपुर हो इन सब इलाको में खनन माफिया बहुत सक्रिय है। उनके द्वारा नदी का सीना चीर कर अवैध खनन का खेल लगातार खेला जा रहा है।

खनन माफियों के हौंसले इतने बुलंद है कि बेधड़क और बेखौफ वे अवैध खनन कर रहें है। इन खनन माफियाओं को पुलिस और प्रशासन का कोई डर नही है। आपको बता दे अगर पुलिस के द्वारा इनकी अवैध खनन से भरी ट्रैक्टर ट्रॉली पकड़ भी ली जाती है तो कुछ ही घंटों में ये बड़ी आसानी से अपनी ट्रैक्टर ट्रॉली पुलिस के चंगुल से छुड़ा लेते है। ये सब देखकर ऐसा प्रतीत होता है कि कही ना कही इन खनन माफियाओं को सफेदपोश नेताओं का भी संरक्षण प्राप्त है।

जानकारी के अनुसार हरिद्वार जिलाधिकारी विनय शंकर पांडे ने अवैध खनन पर बिल्कुल प्रतिबंध लगा रखा है। लेकिन बावजूद इसके अवैध खनन धडल्ले से किया जा रहा है। रुड़की आस पास अवैध खनन का यह कोई पहला मामला नही है इससे पहले तो हरिद्वार रोड स्थित शनिदेव मंदिर के पास अवैध खनन माफियाओं ने यह तक कह दिया था कि चाहे जिले के जिलाधिकारी ही क्यों न आ जाए खनन नही रोका जाएगा खनन बदस्तूर चलता रहेगा। इससे आप अंदाजा लगा सकते है कि खनन माफियां कितने बेखौफ है। सवाल यही है कि माफियों को पुलिस का दर क्यों नही है,क्या कारण है जिसके चलते खनन माफिया आसानी से बच जाते है। अब देखना यही होगा कि अवैध खनन पर प्रतिबंध होने के बाद भी चलते खनन पर प्रशासन का क्या रुख होगा और प्रशासन द्वारा इन माफियाओं पर क्या कार्यवाही की जाएगी।

Shopping Basket