IMG-20221002-WA0114

बसपा प्रदेश अध्यक्ष आदित्य बृजपाल ने की मुस्लिम समाज की अनदेखी

रिपोर्ट :शादाब अली: रुड़की

हरिद्वार पंचायत चुनाव संपन्न होने के बाद जिस तरह से बसपा से लक्सर विधायक हांजी मोहम्मद शहजाद और मंगलौर से हाजी सरवत करीम अंसारी ने पार्टी के बड़े नेताओं पर अपनी अनदेखी का आरोप लगाया और कहा जिस तरह से बसपा प्रदेश अध्यक्ष आदित्य बृजवाल और उनके पिता पूर्व विधायक हरिदास ने बसपा को अपनी निजी पार्टी बना दिया है, इस बार पंचायत चुनाव में बाप बेटे ने पार्टी के बड़े नेताओं की अनदेखी कर अपने करीबियों को पंचायत टिकट बांटे और सामान्य सीटों पर भी दलितों को चुनाव लड़ाना भारी पड़ा है

बसपा विधायक हाजी मोहम्मद शहजाद ने आज अपने कार्यालय पर एक प्रेस वार्ता कर प्रदेश अध्यक्ष से लेकर प्रदेश प्रभारी तक बसपा के तमाम बड़े नेताओं पर मुस्लिम समाज और अपनी अनदेखी का आरोप लगाया जिस तरह से उन्होंने कहां की हर समाज सम्मान रखता है तो उतना ही सम्मान मुस्लिम समाज भी रखता है और जितना सम्मान आदित्य बृजवाल और हरिदास रखता है उतना ही सम्मान मोहम्मद शहजाद और सरवत करीम अंसारी रखते हैं जिस तरह से सोशल मीडिया पर हमें दलाल और बिके हुए कहा जा रहा है यह जरूर किसी के इशारे पर किया जा रहा है उन्होंने कहा सोशल मीडिया पर हमें दलाल न कहकर अगर हिम्मत है तो हमारे सामने आकर बात रखें 2012 विधानसभा में दो दलित विधायक और एक मुस्लिम विधायक पार्टी के जीत कर आए थे तब दोनों दलित विधायक दूसरी पार्टी के साथ बसपा को छोड़कर चले गए थे तब भी बसपा की लाज एक मुस्लिम समाज के विधायक नहीं बचाई थ हम लोग हमेशा पार्टी के लिए समर्पित रहे और आगे भी रहेंगे

बसपा प्रदेश अध्यक्ष आदित्य बृजवाल ने कहीं ना कहीं मुस्लिम समाज से दुश्मनी निकालने का काम कर रहा है अगर उनकी दुश्मनी मोहम्मद शहजाद या फिर सरवत करीम अंसारी से है तो वह दुश्मनी हमारे से निकाले ना कि मुस्लिम समाज से मुस्लिमों को जितनी उनकी भागीदारी है उतने टिकट आखिर क्यों नहीं दिए अगर मुस्लिम समाज को टिकट दिए तो वहां पर दिए गए जहां पर जीतने की हैसियत नहीं थी
वह यहीं नहीं रुके उन्होंने कहा जिस तरह से पार्टी नेतृत्व ने पार्टी को दबाने का काम किया और पार्टी का गणित बिगाड़ने का काम किया गया जब बीजेपी सरकार बेईमानी से बहुजन समाज पार्टी के प्रत्याशियों को हराने का काम कर रही थी तब हमें और पार्टी के नेताओं को क्यों नहीं बुलाया गया तब कहां गए थे पार्टी के यह सर्वे सर्वा जब लंका लूट रही थी और बहुजन समाज पार्टी को लूटने का काम किया जा रहा था उन लोगों को बस एक ही विशेष वर्ग के लोग दिखाई दे रहे हैं कि उन पर लाठीचार्ज हुआ उनको मुस्लिम समाज के वह लोग नहीं दिखाई दे रहे हैं जिन पर पुलिस ने खूब लाठियां भांजी और उन को हराने का काम किया क्यों प्रदेश अध्यक्ष अन्य समाज और मुस्लिम समाज की बात नहीं उठाता वह सिर्फ एक जिला पंचायत सीट की बात करता है वह तो पूरे प्रदेश का अध्यक्ष है उसको तो पूरे प्रदेश में स्वर्ण समाज की बात करनी चाहिए,
आज उत्तराखंड प्रदेश में बहुजन समाज पार्टी हरिदास और उसके बेटे आदित्य बृजपाल वालों की जेब की पार्टी बन कर रह गई हम लोग कतई भी यह बर्दाश्त नहीं करेंगे और हमारे द्वारा इसकी निंदा की जाती है चाहे कुछ भी हो हमारी नेता पहले भी मायावती थी और आज भी मायावती है और आगे भी रहेंगी हमारा नेता हरिदास ना है और आगे भी नहीं होगा

मंगलौर से बसपा विधायक हाजी सरवत करीम अंसारी ने भी प्रदेश अध्यक्ष और प्रदेश के तमाम बड़े नेताओं पर गंभीर आरोप लगाए जिस तरह से उन लोगों ने इस बार पंचायत चुनाव में टिकट तो बांट दिए गए लेकिन बाद में उन लोगों की कोई भी सुध नहीं ली विधायक हाजी सरवत करीम अंसारी ने कहा जिस तरह से रिजर्व सीट पर दलित लड़ने चाहिए लेकिन प्रदेश अध्यक्ष ने सामान्य सीटों पर भी दलितों को लड़ाने का काम किया जिस कारण कहीं ना कहीं मुस्लिम और अन्य समाज की अनदेखी की गई क्या उन लोगों को सामान्य सीट पर चुनाव लड़ने का अधिकार नहीं था जिस तरह से प्रदेश अध्यक्ष के द्वारा मनमानी की गई और हम लोगों की भी अनदेखी पार्टी और संगठन के द्वारा की गई इसलिए आज हमने प्रेस वार्ता में अपनी बात रखी और जरूरत आने पर बहन जी से भी समय लेकर उनको भी पूरे मामले से अवगत कराया जाएगा

IMG-20220929-WA0246

मनसूर ठेकेदार निकले किंग मेकर प्रत्याशी को जीता कर कराया ताकत का एहसास

रिपोर्ट :शादाब अली: रुड़की

रुड़की हरिद्वार पंचायत चुनाव संपन्न होने के बाद अब मतगणना स्थल से रिजल्ट आने शुरू हो गए हैं प्रशासन के द्वारा कड़ी सुरक्षा बंदोबस्त के साथ जीते हुए प्रत्याशियों की घोषणा की जा रही है चुनाव में जिस तरह से प्रत्याशियों ने अपनी अपनी जीत के लिए गुणा भाग फिट किए थे कोई तो उन गुणा भाग में सफल होता नजर आया और किसी के हाथ हार की मायूसी लगी लेकिन जिस तरह से बेल्डी साल्हापुर ग्राम पंचायत से किसान नेता पदम सिंह के पुत्र चुनाव मैदान में अपनी किस्मत आजमा रहे थे और उनको कड़ी टक्कर उन्हीं के गांव के पूर्व प्रधान ललित से मिल रही थी लेकिन जिस तरह से मनसूर ठेकेदार की रणनीति के सामने विरोधी खेमा ढेर हो गया और किसान नेता पदम सिंह के पुत्र विजय हुए और वह गांव के प्रधान बन गए लेकिन जिस तरह से उनकी जीत के लिए मनसूर ठेकेदार ने रणनीति बनाई उस रणनीति के आगे पूर्व प्रधान की रणनीति फेल होती नजर आई जिस तरह से क्षेत्र में चुनाव प्रचार में देखने को मिला प्रत्याशी अपनी-अपनी जीत के लिए गुणा भाग करते नजर आए लेकिन इन गुणा भाग के बीच मनसूर ठेकेदार आश्वस्त नजर आए उन्होंने कहा जीत तो निश्चित रूप से किसान नेता पदम सिंह के पुत्र की ही होगी और परिणाम भी कुछ ऐसे ही आए मनसूर ठेकेदार पिछले काफी लंबे समय से राजनीति के चाणक्य माने जाते हैं और उनका खेमा जिस और रहता है वह भी जीत दर्ज करता है जिस तरह से मंसूर ने विरोधियों को पटखनी और अपने प्रधान पद के प्रत्याशी को जीता कर अपनी ताकत का विरोधियों को कहीं ना कहीं एहसास भी कराया

IMG_20220913_112131

रिपोर्ट :शादाब अली: रुड़की

रुड़की ग्राम माधोपुर से प्रधान पद प्रत्याशी हाजी नौशाद अहमद के समर्थन में आज प्रत्याशियों ने अपने नामांकन वापस लिए और उन्होंने अपना समर्थन हाजी नौशाद को कर दिया जिसको लेकर हाजी नौशाद खेमा अब मजबूत स्थिति में नजर आ रहा है जिन प्रत्याशियों के द्वारा अपना समर्थन हाजी नौशाद को किया गया है वह काफी मजबूत गुट माने जाते हैं जिन लोगों के द्वारा प्रधान पद के प्रत्याशी हाजी नौशाद को समर्थन किया गया आज उन्होंने ढोल नगाड़ों के साथ बड़ी धूमधाम से हाजी नौशाद का खुले दिल से स्वागत किया और पूरे गांव में एक स्वागत जुलूस भी निकाला जिसको लेकर वह गदगद नजर आए और उन्होंने कहा जिस तरह से इन लोगों ने मुझे अपना समर्थन दिया है मैं कभी नहीं भूल पाऊंगा और जनता ने अगर मुझे यहां से जिता कर प्रधान बनाने का काम किया तो मैं वादा करता हूं इस ग्राम पंचायत को एक आदर्श ग्राम पंचायत बनाने का काम करूंगा और जो बचे हुए अधूरे कार्य हैं उनको जल्द से जल्द पूरा कराने का काम भी मेरे द्वारा किया जाएगा

हाजी नौशाद के पिता हाजी मोहम्मद जमशेद भी इस ग्राम पंचायत से प्रधान रह चुके हैं और उनके कार्यकाल में माधोपुर में अनेक विकास कार्य कराए गए जिसको लेकर अब हाजी नौशाद के द्वारा वोट मांगने जा रहे हैं और वह कह रहे हैं जिस तरह से मेरे पिता ने इस गांव में प्रधान बनने के बाद लोगों की सेवा की है मेरे द्वारा भी अपने पिता के नक्शे कदम पर चल कर ही गांव को विकास से जोड़ने का काम किया जाएगा उन्होंने कहा जिस तरह से माधोपुर की जनता ने मुझ पर विश्वास जताते हुए अपना पूर्ण समर्थन दिया है मैं उसे कभी नहीं भूल पाऊंगा और हमेशा आपकी सेवा के लिए दिन रात एक कर दूंगा

इस दौरान उपस्थित रहे लोग मोहतरम , उवेश अहमद , मुसीर ने अपना नामांकन पत्र हाजी नौशाद अली के पक्ष मे वापस ले लिये है और तीनो ने अपने अपने समर्थको के साथ मिलकर अपना समर्थन हाजी नौशाद अली को दे दिया है। जिससे गांव वालो का मानना है इस बार ग्राम पंचायत माधोपुर हजरतपुर से प्रधान पद के उम्मीदवार हाजी नौशाद अली की जीत निश्चित है । समर्थन देने वालो मे मुख्य रूप से हाजी नाजिम , हाजी मुकर्रम, हाजी मोहतरम, कामिल , मशव्वर , मनव्वर , शंकर , महेन्द्र, शिवकुमार, धर्मपाल, इंदर, सरफराज, इस्लाम, अकरम, अनवर, इकबाल, आदि लोग थे

IMG_20220910_222608

सफरपुर जिला पंचायत सीट पर मोहम्मद शहजाद ने की जनता से मुलाकात

रिपोर्ट: शादाब अली: रुड़की

रुड़की जिला पंचायत चुनाव को लेकर प्रत्याशी अपनी-अपनी जीत के बड़े-बड़े दावे कर रहे हैं वही बात की जाए जिला पंचायत सीटों की तो हरिद्वार जिले में 44 जिला पंचायत सीटों पर सैकड़ों प्रत्याशी अपनी-अपनी किस्मत आजमा रहे हैं और उनके द्वारा जीत के दावे भी किए जा रहे हैं जिस तरह से अभी हाल ही में अपने अपने नामांकन किए हुए दो दिन ही बीते हैं लेकिन प्रत्याशियों के द्वारा प्रचार-प्रसार तेज कर दिया गया है जिस तरह से जिला पंचायत सफरपुर सीट से अपनी निर्दलीय के तौर पर किस्मत आजमा रहे मोहम्मद शहजाद का देर रात ग्राम माधोपुर में जोरदार स्वागत किया गया मौके पर मौजूद लोगों ने कहा जिस तरह से मोहम्मद शहजाद गरीब लोगों के लिए दिन रात लगे रहते हैं और कभी भी कोई व्यक्ति क्षेत्र का उनके पास मदद के लिए जाता है तो है उसको निराश नहीं करते और हमेशा उसके साथ चलने का काम करते हैं पिछले काफी लंबे समय से मोहम्मद शहजाद सफरपुर जिला पंचायत सीट पर लोगों की खिदमत कर रहे हैं और अब वक्त आ गया है लोगों को उनकी खिदमत का इनाम देना चाहिए क्योंकि मोहम्मद शहजाद ऐसे प्रत्याशी हैं जो हमेशा से ही गरीब लोगों के लिए खड़े रहते हैं और वह एक सीधे साधे इंसान हैं उनमें कोई भी छल कपट क्षेत्र के लोगों को नजर नहीं आती है
निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर अपनी किस्मत आजमा रहे मोहम्मद शहजाद ने भी क्षेत्र के लोगों से वादा किया अगर जनता ने उन पर विश्वास जताया तो वह उस पर खरा उतरने का पूरा काम करेंगे क्योंकि मेरा मकसद सिर्फ और सिर्फ क्षेत्र का विकास करना है मैं आप लोगों से कहना चाहता हूं कि जिस तरह से लोगों का प्यार मुझे इस सीट पर मिल रहा है मैं इसको कभी नहीं भूल पाऊंगा

इस मौके पर ओम प्रकाश, जयपाल, वेदपाल, सुखपाल, अमरचंद, इलम चंद ,राजकुमार, इस्लाम कुरेशी, बनिया कुरेशी, मोहम्मद आसिफ, अल्ताफ, मोहम्मद सुलेमान, तौसीफ, मोहम्मद तालिब मोहम्मद वसीम, सैकड़ों लोग मौजूद रहे

IMG_20220910_233522

प्रधान पद के प्रत्याशी अब्दुल वाजिद ने कहा जनता की सेवा ही मेरा मकसद

रिपोर्ट :शादाब अली: रुड़की

रुड़की हरिद्वार जिले में पिछले दो साल से ग्रामीण क्षेत्र की जनता पंचायत चुनाव का बड़ी बेसब्री के साथ इंतजार कर रही थी क्योंकि प्रधानों का कार्यकाल समाप्त होने के बाद सरकार के द्वारा ग्राम पंचायतों पर प्रशासन नियुक्त कर दिए गए थे लेकिन दो साल के बाद आखिरकार सरकार को अब पंचायत चुनाव कराने ही पढ़ें जिस तरह से रुड़की ब्लॉक में आने वाले टोडा एतमाल की बात की जाए तो यह ग्राम पंचायत पिछले पांच साल पहले ही अलग होकर अपने अस्तित्व में आई थी और यहां प्रधानी पद पर अपनी किस्मत आजमा रहे अब्दुल वाजिद जो पिछली बार भी इस ग्राम पंचायत में छोटे प्रधान के पद पर काबिज थे लेकिन इस बार अब्दुल वाजिद इस ग्राम पंचायत से प्रधानी पद पर अपनी किस्मत आजमा रहे हैं उन्होंने कहा जिस तरह से मुझे इस क्षेत्र की जनता ने भरपूर प्यार और सहयोग दिया मैं उसे कभी नहीं भूल पाऊंगा और मुझे इस बार भी क्षेत्र की जनता का भरपूर सहयोग मिल रहा है और मुझे विश्वास है की इस बार भी जिता कर ग्राम प्रधान बनाने का काम करेंगे क्योंकि मेरे द्वारा ग्राम पंचायत में विकास कार्य कराए गए हैं चाहे वह राशन की समस्या हो या फिर जाति प्रमाण पत्र या आय प्रमाण पत्र किसी भी प्रकार की कोई समस्या मेरे द्वारा क्षेत्र की जनता को नहीं आने दी गई और मुझे पूरी उम्मीद है इस बार भी क्षेत्र की जनता मुझ पर विश्वास और भरोसा जताकर ग्राम प्रधान बनाने का काम करेगी और मैं जनता से वादा करता हूं बचे हुए विकास कार्य जल्द से जल्द कराने का कार्य करूंगा

IMG_20220910_180604

जिला पंचायत सीट चोली शहाबुद्दीनपुर से राजेश सैनी उर्फ राजू की पत्नी का टिकट काटना पड़ सकता है भाजपा को भारी

रिपोर्ट: शादाब अली: रुड़की

रुड़की हरिद्वार पंचायत चुनाव में जिस तरह से सभी पार्टी अपने-अपने प्रत्याशी उतारकर जीत का दम भर रही है वही बात की जाए जिला पंचायत 17 चोली शहाबुद्दीनपुर ब्लॉक भगवानपुर कि यहां पर भारतीय जनता पार्टी ने अपना प्रत्याशी पहले तो सुमन सैनी को घोषित कर दिया था जो राजेश सैनी उर्फ़ राजू की पत्नी है राजेश सैनी उर्फ राजू पिछले काफी लंबे समय से भाजपा से जुड़े हुए हैं और वह हर समय जनता के बीच मौजूद रहते हैं जिस तरह से राजेश सैनी उर्फ राजू भारतीय जनता पार्टी में पिछले काफी लंबे समय से सक्रिय कार्यकर्ता माने जाते थे और उनके द्वारा इस बार अपनी पत्नी सुमन सैनी को चोली शहाबुद्दीनपुर से चुनाव लड़ाने का मन बनाया हुआ था और उनके द्वारा लगातार अपनी पत्नी को टिकट दिलाने के लिए प्रयास भी किए जा रहे थे और उनका यह प्रयास सफल भी रहा भारतीय जनता पार्टी ने उनकी निष्ठा और ईमानदारी को देखते हुए उनकी पत्नी को जिला पंचायत का उम्मीदवार बना दिया लेकिन टिकट की घोषणा हो जाने के बाद उनकी पत्नी का टिकट काट दिया गया और वहां से नीटू को उम्मीदवार भारतीय जनता पार्टी ने बनाया लेकिन जब इस विषय पर राजेश सैनी उर्फ़ राजू से बात की गई तो उन्होंने बताया जिस तरह से मेरे जैसे ईमानदार कार्यकर्ता का भारतीय जनता पार्टी के द्वारा टिकट काटा गया यह एक सही निर्णय नहीं है क्योंकि हम पिछले काफी लंबे समय से जिला पंचायत क्षेत्र में सक्रिय थे और 5 वोट वाले व्यक्ति को जिला पंचायत का टिकट दिया जाना अपने आप में सोचने का विषय है क्योंकि हमारे यहां पर 2500 वोट हैं अगर भारतीय जनता पार्टी 5 वोट वाले को अपना प्रत्याशी घोषित कर दी है और 2500 वोट वाले का टिकट काट दिया जाता है यह कहीं ना कहीं भारतीय जनता पार्टी के आने वाले प्रत्याशी के लिए शुभ संकेत नहीं है क्योंकि इसका हर्जाना अब उनको आने वाले चुनाव में चुकाना पड़ेगा जिस तरह से सैनी समाज के साथ छल किया गया और बिना वजह ही मेरी पत्नी का टिकट काट दिया गया लेकिन भाजपा से टिकट कटने के बाद राजेश सैनी उर्फ़ राजू अब निर्दलीय ही चुनाव मैदान में बने हुए हैं और उन्होंने कहा क्षेत्र में उनको जनता का प्यार और विश्वास भरपूर मिल रहा है और मुझे विश्वास है कि इस बार जनता मेरी पत्नी सुमन सैनी को विजई बनाने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ेगी

IMG_20220908_153957

भगवानपुर क्षेत्र में बहुजन समाज पार्टी को क्षेत्रीय नेताओं ने कहा अलविदा

रिपोर्ट :शादाब अली: रुड़की

रुड़की भगवानपुर सिरचन्दी जिला पंचायत सीट से टिकट मांग रहे हाजी नौशाद ने आखिरकार बहुजन समाज पार्टी को एक बड़ा झटका देते हुए पार्टी छोड़ने का फैसला लिया है उनके साथ ही सिकंदरपुर के राव इरशाद ने भी बहुजन समाज पार्टी को अलविदा कह दिया सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार यह दोनों बहुजन समाज पार्टी से जिला पंचायत का टिकट मांग रहे थे लेकिन पार्टी ने किसी और को वहां से अपना प्रत्याशी घोषित कर दिया हाजी नौशाद पिछले काफी लंबे समय से सिरचन्दी जिला पंचायत सीट पर तैयारी कर रहे थे और वह लगातार क्षेत्र में सक्रिय नजर आ रहे थे जिस तरह से अचानक से हाजी नौशाद का टिकट बहुजन समाज पार्टी के द्वारा काटा गया है उससे क्षेत्र के लोगों में बहुजन समाज पार्टी के प्रति आक्रोश नजर आ रहा है क्योंकि हाजी नौशाद पिछले काफी लंबे समय से बहुजन समाज पार्टी में रहकर कार्य कर रहे थे और अचानक से उनकी जगह किसी और को जिला पंचायत का टिकट दिया जाना यह क्षेत्र के लोगों को पच नहीं पा रहा उन्होंने अपने सैकड़ों समर्थकों के साथ बहुजन समाज पार्टी को अलविदा कहकर आजाद समाज पार्टी का दामन थाम लिया और वह अब आजाद समाज पार्टी से ही सिरचन्दी जिला पंचायत से चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहे हैं उन्होंने कहा जिस तरह से मेरे द्वारा पार्टी में रहकर निष्ठा से कार्य किया जा रहा था बहुजन समाज पार्टी में निष्ठावान कार्यकर्ताओं की कोई जगह नहीं है इसका खामियाजा आने वाले चुनाव में पार्टी को भुगतना पड़ेगा क्योंकि हाजी नौशाद के साथ ही राव इरशाद भी क्षेत्र में अच्छी खासी पकड़ रखते हैं अब देखना यह होगा कि जिस तरह से बहुजन समाज पार्टी ने अपने दो जमीन से जुड़े हुए नेता को खोदिए हैं इसका आने वाले समय में बहुजन समाज पार्टी को कितना नुकसान उठाना पड़ता है

IMG-20220908-WA0048

जिला पंचायत मेहवड़ खुर्द से योगेश प्रमुख ने किया नामांकन, बसपा के नेता रहे मौजूद

रिपोर्ट :शादाब अली: रुड़की

रुड़की हरिद्वार पंचायत चुनाव को लेकर अब सरगर्मियां तेज होने लगी है लंबी जद्दोजहद के बाद पार्टियों ने अपने अपने प्रत्याशी चुनाव मैदान में उतारे हैं इस बार बहुजन समाज पार्टी ने भी जिला पंचायत चुनाव मैं अपने प्रत्याशी बड़ी संख्या में उतारे हैं वही बात की जाए मेहवड़ खुद जिला पंचायत सीट की तो यहां से बहुजन समाज पार्टी ने योगेश प्रमुख को अपना प्रत्याशी बनाया है आज योगेश प्रमुख ने अपने सैकड़ों समर्थकों और पार्टी के कार्यकर्ताओं के साथ नामांकन करने के लिए रवाना हुए योगेश प्रमुख ने कहा उनकी प्राथमिकता जिला पंचायत क्षेत्र में विकास कराना रहेगी यहां पर शिक्षा और चिकित्सा से लेकर अन्य सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएंगी चाहे उनको इसके लिए कितना भी संघर्ष करना पड़े

उन्होंने कहा जिस तरह से पार्टी ने उन पर भरोसा जताया है वह उस भरोसे को कायम रखेंगे और उस पर खरा उतरने के लिए हर संभव प्रयास किए जाएंगे योगेश प्रमुख क्षेत्र में एक बड़े समाजसेवी के तौर पर जाने जाते हैं और युवा वर्ग में वह अच्छी खासी दखल रखते हैं

IMG-20220908-WA0002

किशनपुर जमालपुर जिला पंचायत सीट पर कांग्रेस नेता सनी त्यागी की पत्नी शिवांगी त्यागी के नामांकन के दौरान मौजूद रहे जिले के कांग्रेस नेता

रिपोर्ट: शादाब अली: रुड़की

रुड़की हरिद्वार पंचायत चुनाव को लेकर सरगर्मियां अब तेज होने लगी है जिस तरह से प्रधान पदों के साथ-साथ बीडीसी और जिला पंचायत के दावेदार भी अब खुलकर सामने आने लगे हैं जिला पंचायत सीट किशनपुर जमालपुर से युवा कांग्रेस प्रदेश महामंत्री सनी त्यागी की पत्नी शिवांगी त्यागी चुनाव मैदान में निर्दलीय ही अपनी किस्मत आजमा रही है जिस तरह से कांग्रेस हाईकमान ने इस जिला पंचायत सीट को ओपन ही छोड़ दिया और अब प्रत्याशी अपनी-अपनी जीत के समीकरण बैठाने में लगे हुए हैं जिसके चलते सनी त्यागी की पत्नी शिवांगी त्यागी ने कल बड़े लाव लश्कर के साथ अपनी ताकत का एहसास कराते हुए नामांकन करने के लिए हरिद्वार पहुंचे काफिले में सैकड़ों गाड़ियों के साथ-साथ ट्रैक्टर और बाइक के शामिल रही नामांकन की चर्चा पूरे क्षेत्र में बनी हुई है क्योंकि जिस तरह से सनी त्यागी की पत्नी शिवांगी त्यागी के नामांकन के दौरान कांग्रेस के बड़े नेता भी मौजूद रहे उनकी मौजूदगी नहीं सनी त्यागी की पत्नी ने अपना नामांकन दाखिल किया सनी त्यागी ने कहां कि जिस तरह से क्षेत्र के लोगों का नामांकन के दौरान उनको प्यार मिला है वह कभी इसको नहीं भूल पाएंगे उन्होंने कहा हमारी प्राथमिकता क्षेत्र का विकास कराना है और विकास कराने के लिए कोई कोर कसर नहीं छोड़ी जाएगी चाहे वह शिक्षा का क्षेत्र हो या फिर चिकित्सा का क्षेत्र जिला पंचायत क्षेत्र में सभी तरह के विकास कार्य कराना उनकी प्राथमिकता रहेगी

IMG_20220907_001330

उत्तराखण्ड पुलिस और आईआईटी रूड़की ने देवभूमि साइबर हैकाथॉन 2022 के दूसरे संस्करण का आयोजन किया ,आईआईटी रूड़की ने साइबर सुरक्षा में क्षमता निर्माण एवं ज्ञान विनिमय को बढ़ावा देने के लिए इन्फोर्मेशन टेक्नोलॉजी डेवलपमेन्ट एजेन्सी और स्पेशल टास्क फोर्स के साथ समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर भी किए

रुड़की, 6 सितम्बर, 2022: इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी रूड़की (आईआईटी रूड़की) द्वारा तकनीकी प्रदर्शनों की श्रृंखला में संस्थान ने 3 सितम्बर से 6 सितम्बर 2022 के बीच आईआईटी रूड़की में चार दिवसीय ‘देवभूमि साइबर हैकाथॉन 2022’ के आयोजन के लिए आईहब दिव्य संपर्क और उत्तराखण्ड पुलिस के साथ साझेदारी की। ‘देवभूमि साइबर हैकाथॉन 2022’ के ग्राण्ड फिनाले के दौरान साइबर सुरक्षा के क्षेत्र में आपसी सहयोग के लिए इन्फोर्मेशन टेक्नोलॉजी डेवलपमेन्ट एजेन्सी (डिपार्टमेन्ट ऑफ इन्फोर्मेशन एण्ड साइन्स टेक्नोलॉजी), उत्तराखण्ड सरकार; स्पेशल टास्क फोर्स, उत्तराखण्ड (गृह विभाग, उत्तराखण्ड पुलिस), उत्तराखण्ड सरकार और आईआईटी रूड़की, उत्तराखण्ड के बीच एक समझौता भी हुआ।

क्षमता निर्माण एवं ज्ञान विनियम, साइबर सुरक्षा के क्षेत्र में अनुसंधान एवं विकास, साइबर सुरक्षा, थ्रेट इंटेलीजेन्स, अनुसंधान एवं विकास के लिए साइबर सिक्योरिटी सेंटर फॉर एक्सीलेन्स, तकनीकी समाधानों, साइबर सिक्योरिटी सेंटर ऑफ एक्सीलेन्स, नीतिगत ढांचें के विकास, रियल टाईम व्यवहारिक अनुभव, छात्र इंटर्नशिप एवं जागरुकता जैसे पहलुओं को ध्यान में रखते हुए यह साझेदारी की गई।

‘देवभूमि साइबर हैकाथॉन 2022’ में हिस्सा लेने के लिए देश भर से बड़ी संख्या में प्रतिभागी आईआईटी रूड़की पहुंचे थे। 1700 छात्रों की 810 टीमों ने कार्यक्रम के लिए पंजीकरण किया, जिनमें से 40 टीमें ग्राण्ड फिनाले तक पहुंचीं। गृह मंत्रालय, केन्द्रीय एजेन्सियों एवं राज्य पुलिस के अधिकारियों ने भी आयोजन में हिस्सा लिया। साइबर अपराधों की जांच में आने वाली बाधाओं को दूर करने, साइबर फोरेंसिक के गहन विश्लेषण तथा राज्य में साइबर सम्पत्तियों के संरक्षण के लिए इस प्रतियोगिता को डिज़ाइन किया गया था। 48 घण्टे की हैकाथॉन के दौरान टीमों का मूल्यांकन किया गयां

4 दिवसीय कार्यक्रम का उद्घाटन 3 सितम्बर 2022 को दोपहर 12ः30 बजे एल2-103, संस्थान के एपीजे अब्दुल कलाम हॉल में हुआ, समापन समारोह का आयोजन संस्थान में एमएसी सभागार में 6 सितम्बर 2022 को किया गया। श्री अमित सिन्हा, आईपीएस, एडीजी, उत्तराखण्ड उद्घाटन समारोह के मुख्य अतिथि थे। श्री अशोक कुमार, आईपीएस, डीजीपी उत्तराखण्ड ने समापन समारोह की अध्यक्षता की। डीजीपी उत्तारखण्ड और आईआईटी रूड़की के डायरेक्टर प्रोफेसर अजीत कुमार चतुर्वेदी ने हैकाथॉन को विजेताओं को सम्मानित किया।

चार दिवसीय कार्यक्रम में हिस्सा लेने वाले अन्य गणमान्य दिग्गजों में श्री सेंथिल अवुदाई कृष्णा राज एस, डीआईजी, एसटीएफ/ पीएण्डएम, उत्तराखण्ड पुलिस; श्री बरिन्दर सिंह, डीआईजी, उत्तराखण्ड पुलिस; डॉ मुरुगेसन, एडीजी, उत्तराखण्ड; प्रोफेसर अजीत कुमार चतुर्वेदी, डायरेक्टर, आईआईटी रूड़की; प्रोफेसर मनोरंजन परीदा, डिप्टी डायरेक्टर, आईआईटी रूड़की; प्रोफेसर अक्षय द्विवेदी, डीन, एसआईआईसी, आईआईटी रूड़की; प्रोफेसर सतीश कुमार पेड्डोजु, कम्प्युटर साइंस डिपार्टमेन्ट, आईआईटी रूड़की और श्री अंकुश मिश्रा, डिप्सी एसपी, एसटीएफ, उत्तराखण्ड पुलिस शामिल थे।

आईआईटी रूड़की कार्यक्रम के लिए नॉलेज पार्टनर और कोलाबोरेटिंग पार्टनर है। देवभूमि साइबर हैकाथॉन 2.0 के पिछले संस्करण का आयोजन राष्ट्रीय स्तर पर किया गया था, जिसे भारत सरकार के गृह मंत्रालय एवं विभिन्न राज्यों ने खूब सराहा। प्रतियोगिता का विस्तृत विवरण आधिकारिक वेबसाईट

माननीय प्रधानमंत्री हमेशा से हैकाथॉन द्वारा तकनीकी समाधानों की खोज पर ज़ोर देते रहे हैं। स्मार्ट इंडिया हैकाथॉन ऐसा ही एक आयोजन था, जिसमें देश भर से छात्रों ने हिस्सा लिया था। इसी तरह उत्तराखण्ड पुलिस ने स्मार्ट पुलिसिंग के लक्ष्य को हासिल करने के लिए उत्तराखण्ड राज्य में साइबर हैकाथॉन का आयोजन किया। यह ऐसा करने वाला उत्तरी भारत का पहला राज्य बन गया। इसी कड़ी में आईआईटी रूड़की ने उत्तराखण्ड पुलिस के लिए देवभूमि साइबर हैकाथॉन 2022 के दूसरे संस्करण का आयोजन किया है।

इस साझेदारी के बारे में बात करते हुए श्री सेंथिल अवुदाई कृष्णा राज, एस डीआईजी, एसटीएफ/ पीएण्डएम, उत्तराखण्ड पुलिस ने कहा, ‘‘एसटीएफ, आईटीडीए और आईआईटी रूड़की के बीच समझौता ज्ञापन का मुख्य उद्देश्य साइबर सुरक्षा के लिए सख्त मॉडलों के विकास हेतु मार्गदर्शन, प्रशिक्षण गतिविधियों, क्षमता निर्माण, अनुसंधान एवं विकास को बढ़ावा देना है।’

इस मौके पर श्री अमित सिन्हा, आईपीएस, एडीजी, उत्तराखण्ड पुलिस ने कहा, ‘‘उत्तराखण्ड साइबर पुलिस ने पिछले 1-2 सालों में सराहनीय कार्य किया है। इसी उत्साह के साथ अब हम ऐसे आधुनिक तकनीकी समाधान खोजना चाहते हैं जो स्मार्ट पुलिसिंग को नया आयाम दे सकें। हमने साइबर सुरक्षा के लिए सूचना एवं क्षमता निर्माण को बढ़ावा देने के लिए आईआईटी रूड़की के साथ साझेदारी की है। टीमों को ऐसे व्यवहारिक विचारों पर फोकस करना चाहिए जिन्हें अपनाकर उत्तराखण्ड पुलिस समाज कल्याण को सुनिश्चित कर सके। सभी प्रतिभागियों को मेरी ओर से शुभकामनाएं।’’

प्रोफेसर अजीत के चतुर्वेदी, डायरेक्टर, आईआईटी, रूड़की ने कहा, ‘‘देवभूमि साइबर हैकाथॉन एक ऐसा मंच है जो तकनीक की मदद से वास्तविक जीवन की समस्याओं का हल करता हैं। आईआईटी रूड़की के लिए खुशी की बात है कि इसे साइबर स्पेस में क्षमता निर्माण के लिए आईटीडीए और उत्तराखण्ड पुलिस के साथ साझेदारी का मौका मिला है।’

अपने सम्बोधन में श्री अशोक कुमार, आईपीएस, डीजीपी, उत्तराखण्ड ने कहा, ‘‘राज्य में स्मार्ट पुलिसिंग की हमारी पहल साइबर अपराधां को कम करने में मदद करेगी, हमारे इन्हीं प्रयासों के चलते नीति आयोग द्वारा 2021 मेंज ारी स्थायी विकास लक्ष्यों की इंडिया इंडैक्स में हमें शीर्ष पायदान पर रखा गया। लेकिन तकनीक पर बढ़ती निर्भरता के साथ साइबरसुरक्षा एक बड़ा मुद्दा बन गई है। मैं आईआईटी रूड़की के प्रति आभारी हूं, जिन्होंने हैकाथॉन के आयोजन के लिए उत्तराखण्ड पुलिस के साथ साझेदारी की। ताकि किसी भी संभावी खतरे को समय रहते पहचान की इस पर कार्रवाई की जा सके। इसके अलावा साइबर सुरक्षा में आपसी सहयोग के साथ आईआईटी रूड़की और आईटीडीए भी भारत सरकार की ‘मेक इन इंडिया’ पहल के तहत स्वदेशी सॉफ्टवेयर टूल्स के निर्माण पर काम करेंगे। मैं सभी प्रतिभागियों और विजेताओं को बधाई देना चाहूंगा जिन्होंने साइबर सुरक्षा की खामियों को दूर करने के लिए जोश और उत्साह का प्रदर्शन किया है